बंगाल चुनाव पर शरद पवार ने बीजेपी,ओवैसी व ममता पर क्या कहा ?

308
0
SHARE

हिमांशु शेखर.रांची. महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री और एनसीपी के अध्यक्ष शरद पवार ने कहा है कि किसान आंदोलन कर रहे हैं। प्रधानमंत्री को विदेश जाने की फुर्सत है, पश्चिम बंगाल जाने के लिए फुर्सत है, लेकिन 20 किमी दूर पर मौजूद किसानों से मिलने की फुर्सत नहीं है। रविवार को पवार एनसीपी की ओर से रांची के हरमू मैदान में आयोजित जनसभा को संबोधित कर रहे हैं।
शरद पवार ने कहा कि बिरसा की धरती पर आना मेरे लिए गौरव की बात है। उन्होंने क्रिकेट को इस ऊंचाई पर पहुंचाने के लिए धौनी को क्रेडिट दिया। कहा कि राहुल द्रविड़ कप्तानी छोड़ने आए तो मैंने सचिन तेंदुलकर को कप्तानी स्वीकारने के लिए कहा लेकिन उन्होंने धौनी का नाम सुझाया। मुझे गर्व है कि मैं धौनी की धरती पर आया हूं।
उन्होंने क्हा- महाराष्ट्र की तरक्की में झारखंड, बिहार, मध्यप्रदेश और उत्तरप्रदेश के लोगों की मेहनत का योगदान है। उन्होंने सवाल पूछते हुए कहा कि मोदी ने क्या किया। भाजपा के कार्यकर्ताओं से कहा कि थाली बजाओ और लोगों को जागरूक करो। हम थाली बजाने वाले नहीं, थाली में खाना कैसे जुटे उसकी चिंता करते हैं।
उन्होंने कहा कि वे पश्चिम बंगाल चुनाव में ममता बनर्जी को साथ देने पर विचार कर रहे हैं। कहा कि भाजपा असदुद्दीन ओवैसी के कारण जीत रही है। दावा किया कि ममता के साथ बंगाल की जनता खड़ी है। ममता पर चारों ओर से प्रहार हो रहा है। ऐसे में ममता को हमारी सहायता की जरूरत है।शरद पवार ने ये भी कहा कि केंद्र की सत्ता में मौजूद बीजेपी बंगाल में चुनाव जीतने के लिए कुछ लोगों को आगे करके रणनीति बना रही है. महाराष्ट्र में ओवैसी को आगे करके अल्पसंख्यक वोटों का बंटवारा किया बंगाल में भी यही सब हो रहा है.
किसानों के मुद्दे पर पवार ने कहा कि किसानों और राज्यों से बात किये बगैर कृषि कानून को लागू कर दिया गया। वह जब केन्द्र मंे मंत्री थे तो सभी को विश्वास में लेकर काम किया करते थे। जनसभा को झारखंड के पूर्व मंत्री और हुसैनाबाद के मौजूदा विधायक कमलेश सिंह ने भी संबोधित किया।

LEAVE A REPLY