अनविलिंग इंडियाज़ सोशल वाइसेज़’ का विमोचन

360
0
SHARE
released

संवाददाता.पटना.बिहार विधान परिषद् के सभागार में शनिवार को आयोजित ‘रामविलास पासवान के भाषणों पर परिचर्चा’ कार्यक्रम के दौरान, केंद्रीय मंत्री पशुपति कुमार पारस, केंद्रीय राज्यमंत्री रामदास अठावले और पूर्व केंद्रीय मंत्री डॉ. संजय पासवान ने संयुक्त रूप से युवा लेखक बिपिन कुमार की प्रथम पुस्तक ‘अनविलिंग इंडियाज़ सोशल वाइसेज़’ का विमोचन किया।
इस मौके पर, डॉ. संजय पासवान ने बिपिन कुमार की पुस्तक को प्रशंसा की और  कहा कि उनके द्वारा सामाजिक सरोकार और विविध पहलुओं को रेखांकित करने का प्रयास किया गया है। उन्होंने सामाजिक समस्याओं पर पुस्तक लिखने की युवा लेखक बिपिन कुमार की मेहनत को सराहा और उन्हें प्रशंसनीय कार्य के लिए धन्यवाद दिया।
युवा लेखक बिपिन कुमार ने भी उन्हें धन्यवाद दिया और बताया कि इस मौके पर उनकी पहली पुस्तक का विमोचन होना उनके लिए एक अत्यंत सौभाग्य की बात है। उन्होंने बताया कि अपने विद्यार्थी जीवन में जितना समझ सके, उसके आधार पर ही इस पुस्तक की रचना की है। ‘अनविलिंग इंडियाज़ सोशल वाइसेज़’ में 42 अध्याय हैं, जिनमें मानव जीवन के विभिन्न पक्षों पर सोधपरक आलेख शामिल हैं, जैसे महिला सशक्तिकरण, कुरितियां, अपराध, शिक्षा, परंपराएं आदि। यह पुस्तक युवाओं के लिए उपयोगी है और साथ ही युवा पत्रकारों, कंटेंट लेखकों, शोधार्थियों के लिए भी महत्वपूर्ण है। उन्होंने इस पुस्तक के आकार देने में स्वत्व प्रकाशन के कृष्णकांत ओझा और राकेश प्रवीर के प्रति भी आभार व्यक्त किया।
यह कार्यक्रम युवा लेखक बिपिन कुमार के लेखन को प्रोत्साहित करने के लिए एक महत्वपूर्ण मंच बना। समाज में सामाजिक सरोकार के प्रति जागरूकता बढ़ाने और उच्च स्तरीय व्यक्तियों द्वारा उनके योगदान की सराहना करने से यह स्थानीय और राष्ट्रीय स्तर पर सकारात्मक परिवर्तन के लिए एक प्रासंगिक पहलु बनता है। सामाजिक मुद्दों पर पुस्तकों के माध्यम से जागरूकता पैदा करने का यह प्रयास आगे बढ़ने के लिए प्रेरणा देता है, जो सामाजिक बदलाव की दिशा में एक महत्वपूर्ण कदम हो सकता है।

 

LEAVE A REPLY