विपक्ष के आरोपों की पुष्टि,CBI जांच की असलियत आई सामने-राजद

323
0
SHARE
CBI

संवाददाता.पटना. राजद प्रवक्ता चित्तरंजन गगन ने कहा है कि भाजपा नेता सुशील कुमार मोदी द्वारा दिए गए आज के बयान से विपक्ष के इस आरोप की पुष्टि हो गई कि सीबीआई और ईडी जैसी केन्द्रीय एजेंसियां भाजपा कार्यालय से गाइड हो रहा है या सीबीआई और ईडी कार्यालय में भाजपा के लोग बैठे हुए हैं।
राजद प्रवक्ता श्री गगन ने कहा है कि मोदी जी के बयान से कई गंभीर सवाल खड़े हो गए हैं। मोदी जी ने अपने बयान में कहा है कि सीबीआई और ईडी के पास तेजस्वी जी के खिलाफ पुख्ता सबूत हैं। तो सवाल यह लाजिमी है कि सीबीआई और ईडी के पास जो सबूत हैं उसकी जानकारी मोदी जी को कैसे है? सच्चाई यह है कि सीबीआई और ईडी द्वारा अबतक लालू जी के परिजनों के यहां जो छापेमारी की गई उसमें किसी के सिजर लिस्ट को अबतक सार्वजनिक नहीं किया गया है। 2017 में हुए छापेमारी में जो कुछ भी सूत्रों के हवाले से मीडिया में आई वो सब के सब फर्जी साबित हो चुके हैं। पांच साल बीत जाने के बाद भी न्यायालय में भी कोई पुख्ता सबूत पेश नहीं किए गए। तो क्या 2024 के लोकसभा चुनाव को प्रभावित करने के लिए भाजपा द्वारा उन केन्द्रीय एजेंसियों को कोई फर्जी सबूत दिए गए हैं जिससे तत्कालिक तौर पर तेजस्वी जी को परेशान किया जाए।
राजद प्रवक्ता ने कहा कि सुशील मोदी जी द्वारा सीबीआई कार्यालय में तेजस्वी जी से पुछताछ के दौरान अन्दर की स्थिति का गलत और आधारहीन दावा किया गया है। फिर भी उनके दावे ने तो सीबीआई को हीं कटघरे में खड़ा कर दिया है। मोदी जी द्वारा किस आधार पर अन्दर पुछताछ के दौरान की स्थिति का दावा किया गया है। क्या पुछताछ के दौरान मोदी जी या भाजपा का कोई नेता सीबीआई अधिकारी का फर्जी पदाधिकारी के रूप में वहां उपस्थित था। अथवा पुछताछ के दौरान सीबीआई कार्यालय से भाजपा कार्यालय किसी विजुअल लिंक से जुड़ा हुआ था जिससे सुशील मोदी जी को अन्दर की स्थितियों की जानकारी मिल रही थी।राजद प्रवक्ता ने कहा कि फर्जी बयान देकर मोदी जी ने सीबीआई को खुद कटघरे में खड़ा कर दिया है।उन्होंने कहा कि मोदी जी के बयान से सीबीआई पर कई गंभीर सवाल खड़े हो गए हैं उन्होंने  इस सम्बन्ध में सीबीआई से सार्वजनिक रूप से स्थिति को स्पष्ट करने की मांग की है।

 

 

LEAVE A REPLY