सीआईएमपी NIRF रैंकिंग में कई IIM से आगे

147
0
SHARE
CIMP

संवाददाता.पटना.बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के ड्रीम प्रोजेक्ट चन्द्रगुप्त प्रबंध संस्थान (पटना) ने एक बार फिर अपनी महत्ता साबित करते हुए NIRF की ताजा रैंकिंग में कई भारतीय प्रबंधन संस्थानों से भी आगे का स्थान प्राप्त किया है। केन्द्रीय शिक्षा मंत्रालय के तहत National Institutional Ranking Framework (NIRF) वर्ष 2021 के आंकड़े केन्द्रीय शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान द्वारा Virtual रूप से जारी किये गए। सीआईएमपी देश के शीर्ष 100 बी-स्कूल की सूची में 78वां स्थान रखता है। पूरे बिहार एवं पूरे पूर्वोत्तर भारत का सीआईएमपी एक मात्र प्रबंधन शिक्षण संस्थान है जो कि NIRF की शीर्ष 100 की सूची में स्थान रखता है।
सीआईएमपी के निदेशक डॉ. वी. मुकुंद दास ने प्रेस कांफ्रेंस में बिहार के मुख्यमंत्री और संस्थान के बोर्ड ऑफ गवर्नर्स के अध्यक्ष को उनके निरंतर समर्थन के लिए दिल से धन्यवाद व्यक्त किया, जिसके कारण संस्थान को इस स्तर तक ले जाना संभव हुआ है। उन्होंने कहा कि इस रैंकिंग ने हम पर न केवल इस स्तर को बनाए रखने, बल्कि बाद के वर्षों की रैंकिंग में धीरे-धीरे आगे बढ़ने की एक बड़ी जिम्मेदारी भी डाल दी है।
National Institutional Ranking Framework (NIRF) भारत सरकार के शिक्षा मंत्रालय द्वारा अनुमोदित एकमात्र रैंकिंग है जो देश भर के संस्थानों को रैंक करने के लिए एक पद्धति की रूपरेखा तैयार करता है। विभिन्न विश्वविद्यालयों और संस्थानों की रैंकिंग के लिए व्यापक मापदंडों की पहचान करने के लिए पूर्ववर्ती एमएचआरडी द्वारा गठित एक कोर कमेटी द्वारा बनाई गई समग्र सिफारिशों और व्यापक समझ से रैंकिंग पद्धति प्राप्त होती है। मापदंडों में मोटे तौर पर ” टीचिंग, लर्निंग एंड रिसोर्सेज,” ” रिसर्च एंड प्रोफेशनल प्रैक्टिसेज,” “ग्रेजुएशन आउटकम्स,” ” आउटरीच एंड इन्क्लूसिविटी,” और “परसेप्शन” शामिल हैं।
‘टीचिंग, लर्निंग एंड रिसोर्सेज ‘ पैरामीटर में डॉक्टरेट छात्रों सहित छात्रों की ताकत, स्थायी संकाय पर जोर देने के साथ संकाय-छात्र अनुपात, संकाय योग्यता और अनुभव के लिए संयुक्त मीट्रिक, और वित्तीय संसाधन और उनका उपयोग शामिल है। ‘रिसर्च एंड प्रोफेशनल प्रैक्टिसेज’ पैरामीटर में प्रकाशनों के लिए संयुक्त मेट्रिक्स, प्रकाशनों की गुणवत्ता, परियोजनाओं के पदचिह्न, पेशेवर प्रथाओं और कार्यकारी विकास कार्यक्रमों को शामिल किया गया है। ‘ग्रेजुएशन आउटकम्स’ पैरामीटर में प्लेसमेंट और उच्च अध्ययन, परीक्षाओं और औसत वेतन के लिए संयुक्त मीट्रिक शामिल हैं।
‘आउटरीच एंड इनक्लूसिविटी’ पैरामीटर में क्षेत्रीय विविधता, लैंगिक विविधता, आर्थिक और सामाजिक विविधता और दिव्यांग छात्रों के लिए उपलब्ध सुविधाएं शामिल हैं। ‘परसेप्शन’ पैरामीटर संस्थान के बारे में नियोक्ताओं और अकादमिक सहकर्मी की धारणा सहित सहकर्मी धारणा को शामिल करता है। यह विभिन्न संस्थानों के स्नातकों के लिए अपनी वरीयता का पता लगाने के लिए नियोक्ताओं की एक बड़ी श्रेणी, प्रतिष्ठित संगठनों के पेशेवरों और शिक्षाविदों की एक बड़ी श्रेणी पर किए गए सर्वेक्षण के माध्यम से किया जाता है और प्रबंधन, इंजीनियरिंग, आदि जैसे विभिन्न डोमेन में विभिन्न मानकों को ध्यान में रखते हुए एक व्यापक रैंकिंग तैयार की जाती है।

 

LEAVE A REPLY