पटना के कॉलेज ऑफ आर्ट्स एंड क्राफ्ट्स के छात्रों ने माँ सरस्वती पूजा के लिए अपनी कला दिखाई

261
0
SHARE

पटना के स्कूल, कोचिंग और कॉलेजों में सरस्वती पूजा के लिए सभी लोग अपने-अपने तरीके से  तैयारी कर रहे हैं, जहां कई स्कूल और कॉलेज बाजार से मूर्तियाँ और सजावट के सामान खरीदकर सारी तैयारी कर रहे हैं, वहीं पटना यूनिवर्सिटी के कॉलेज ऑफ आर्ट्स एंड क्राफ्ट्स विद्यार्थियों द्वारा ही माँ सरस्वती की मूर्ति की तैयारी की गई है। सिर्फ मूर्ति ही नहीं, बल्कि पूरी सजावट भी वहां के विद्यार्थियों द्वारा की गई है।

कॉलेज ऑफ आर्ट्स एंड क्राफ्ट्स के प्रधानाचार्य, अजय पांडेय ने इस तैयारी को संबोधित करते हुए बताया कि कॉलेज की परंपरा के अनुसार, कॉलेज में होने वाले कार्यक्रमों को अलग-अलग ईयर के छात्रों को तय किया जाता है। सरस्वती पूजा के तैयारी की जिम्मेदारी तीसरे ईयर के छात्रों को दी जाती है। प्रति वर्ष बीएफए तृतीय वर्ष के बच्चों द्वारा मूर्ति बनाई जाती है। मूर्ति कला विभाग के छात्रों द्वारा मूर्ति को पूरी तरह से इको-फ्रेंडली और वातावरण के अनुकूल मटेरियल से बनाया गया था, ताकि विसर्जन के समय यह पूरी तरह से पानी में घुल जाए।

इस वर्ष माँ सरस्वती की मूर्ति की ऊँचाई लगभग 12 फीट है। इस कार्य को एक टीम द्वारा किया गया, और मूर्ति का सारा कार्य छात्रों ने अपने हाथों से किया है, वह भी बिना मोल्ड के, किसी भी बाहरी सहायता के बिना। सिर्फ मूर्ति कला ही नहीं, यहाँ के छात्रों ने चित्रकारी और सजावट में भी अपना हुनर दिखाया।

इस वर्ष मूर्ति निर्माण का कार्य मूर्ति कला विभाग के अध्यक्ष विकाश कुमार के नेतृत्व में किया गया और इस कार्य में मूर्ति कला विभाग के तीसरे वर्ष के छात्रों, बीरबल कुमार, रजनीश कुमार, सुमित कुमार, गौरव कुमार, और अभिषेक कुमार ने बढ़-चढ़ कर हिस्सा लिया। पेंटिंग और एप्लाइड आर्ट विभाग से सपना कुमारी, भवेश कुमार, अमिशा कुमारी, और आलोक कुमार भी इस तैयारी में भाग लिए।

LEAVE A REPLY