मनाली से लेह की दुर्गम माउंटेन यात्रा पर यूथ होस्टल (बिहार) की टीम

288
0
SHARE

संवाददाता.पटना. यूथ होस्टल एसोसिएशन ऑफ इंडिया, बिहार स्टेट ब्रांच की टीम,अपनी 15 दिवसीय मनाली से लेह की दुरुहतम माउंटेन बाइक यात्रा के लिए मनाली से रवाना हुई। यूथ होस्टल मुज़फ़्फ़रपुर के लाइफ मेम्बर्स अपनी 15 दिवसीय मनाली से लेह की दुरुहतम माउंटेन बाइक यात्रा के लिए गुरूवार को मनाली से रवाना हुए। इस टीम के लीडर अंचित संभव के साथ हीना एवं अन्य हैं ।

 इस संस्थान के नेशनल चेयरमैन वेंकटनारायन(तमिलनाडू)  एवं एडवेंचर प्रमोशन कमिटी के चेयरमैन मनोज जोशी ( गोवा) ने मनाली में सदस्यों का स्वागत एवं फ़्लैग ऑफ किया। 2021 के इस आयोजन में देश के 150 साइक्लिस्ट की प्रतिभागिता है।

यूथ होस्टल एसोसिएशन ऑफ इण्डिया,मुज़फ़्फ़रपुर के चेयरमैन रतन मिश्रा ने इस संबंध में विस्तृत जानकारी देते हुए बताया कि अपनी 15 दिवसीय यात्रा के क्रम में टीम मनाली (6,730 फीट)-मढ़ी (10,922 फीट)-रोहतांग पास (13,051 फीट) -सिसु (10,235 फीट)- जिस्पा (10,499 फीट )-ज़िंग ज़िंग बार (14,009 फीट )-बारालाचा ला (16,050 फीट )- सरचू प्लेन (13,953 फीट )- व्हिस्की नाला (13,911 फीट )- लाचुंगला पास (16,467 फीट )- डेबरिंग (15,000 फीट )-तंगलंग ला पास (17,484 फीट)- रूमत्से (17,484 फीट )-लेह (11,483 फीट )- खारदुंगला पास ( 17,582 फीट ) की यात्रा में औसतन 55 किलोमीटर प्रतिदिन की दर से अपनी 500 किलोमीटर की साइकिलिंग करेगी।

मनाली से लेह की ये एक्सपीडिशन हिमाचल प्रदेश के बर्फीले पहाड़ों, सेब बाबुगोसा ,नासपाती ,अंजीर के बागों और अनेकों जलप्रपातों से निकलते हुए लेह, लद्दाख़ तक 15 दिनों में पहुंचेगी। ये माउंटेन बाइक एक्सपीडिशन विश्व की कठिनतम यात्राओं में एक मानी जाती है और देश विदेश के सभी साइकिलिस्ट इसे एक बार जरूर करना चाहते हैं जिसका आयोजन यूथ होस्टल असोसिएशन ऑफ इंडिया पिछले 10 सालों से करती आ रही है ।

शहर के गणमान्य व्यक्तियों तथा संस्था के बिहार इकाई अध्यक्ष मोहन कुमार, चेयरमैन के.एन. भारत, सेक्रेटरी ए.के.बोस, जॉइंट सेक्रेटरी सुधीर मधुकर ने टीम की सफलता के लिए अपनी शुभकामनाएं दी हैं।

 

LEAVE A REPLY