बिल्डर गब्बू सिंह के राजनीतिक आकाओं की भी जांच हो-सुशील मोदी

124
0
SHARE
builder Gabbu

मोदी ने उठाए सवाल- एक ठीकेदार पर आय कर छापे से क्यों तिलमिलाए ललन सिंह? किन-किन अफसरों का कलाधन गब्बू सिंह ने निर्माण क्षेत्र में खपाया ? जिस रेस्तरां की ओपेनिंग में जद-यू के दो बड़े नेताओं का पुनर्मिलन हुआ, उससे गब्बू सिंह का क्या संबंध ?
संवाददाता.पटना.पूर्व उपमुख्यमंत्री एवं राज्यसभा सदस्य सुशील कुमार मोदी ने मांग की है कि बिल्डर गब्बू सिंह के ठिकानों आय कर छापों के साथ उसे राजनीतिक संरक्षण देने वाले आकाओं की भी जांच होनी चाहिए।
श्री मोदी ने सवाल उठाया कि एक भ्रष्ट बिल्डर और ठेकेदार के यहां छापा पड़ने से जदयू अध्यक्ष ललन सिंह क्यों लिलमिलाए हुए हैं? उन्होंने कहा कि ललन सिंह जदयू नेतृत्व वाली सरकार को राजद के समर्थन के चलते यदि लालू परिवार के भ्रष्टाचार का बचाव करें, तब तो समझा जा सकता है, लेकिन बिल्डर पर छापा पड़ने से किसी और को दर्द क्यों हो रहा है?
श्री मोदी ने कहा कि वह कौन सीनियर आइएएस अफसर है, जिसे विकास आयुक्त बना कर पदोन्नति देने के बाद जल संसाधन विभाग का अतिरिक्त प्रभार दिया गया, ताकि ऊँची राजनीतिक पहुँच वाले ठेकेदार गब्बू सिंह को लाभ पहुँचाया जाता रहे।उन्होंने कहा कि आयकर विभाग को उन अफसरों के बारे में खुलासा करना चाहिए, जिनका अरबों रुपये का कालाधन गब्बू सिंह के जरिये निर्माण क्षेत्र में खपाया जा रहा था।
श्री सुशील मोदी ने कहा कि पटना के जिस बड़े रेस्तंरा मेन लैंड चायना के उद्घाटन के समय जदयू के दो बड़े नेता पुरानी कटुता भुला कर फिर मिल गए थे, उस रेस्तरां से गब्बू सिंह का क्या संबंध है? आयकर विभाग को इसकी भी जांच करनी चाहिए।उन्होंने कहा कि जल संसाधन विभाग ने किस मंत्री के कार्यकाल में गब्बू सिंह को प्रत्यक्ष या परोक्ष रूप से करोड़ों रुपये का लाभ पहुँचाया, इसकी भी जांच होनी चाहिए।

 

 

LEAVE A REPLY