कुशवाहा पर नीतीश कुमार ने कह दिया,जहां जाना है जाएं

267
0
SHARE
Kushwaha

संवाददाता.पटना.उपेंद्र कुशवाहा के पीछे भाजपा का बैकअप होने के सवाल पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि  उन्हें ही पता होगा कि चीजें कहां से शुरू हुईं। उनको किस पार्टी ने विधायक बनाया, राज्यसभा भेजा और विधान परिषद् में भेजा। सिर्फ लोकसभा सांसद वो दूसरी पार्टी के सहयोग से बने हैं नहीं तो जदयू से ही राज्यसभा सांसद, एमएलए और एमएलसी बने।उन्होंने कहा कि जिनको जहां जाना है जाएं।
उपेंद्र कुशवाहा के दिये गये बयान से संबंधित पत्रकारों के सवाल पर मुख्यमंत्री ने कहा कि मुझे जो कहना था वह हम पहले ही कह चुके हैं। वो क्या बोल रहे हैं, मुझे नहीं पता। एक बात हम बार-बार कह रहे हैं कि किसी भी पॉलिटिकल पार्टी में कोई बात होती है तो उस पर आपस में चर्चा होती है न कि सार्वजनिक रूप से प्रतिदिन उसके बारे में नहीं बोला जाता है। बार-बार आपलोग पूछते हैं तो हम बोल देते हैं। ऐसी बातों का कोई मतलब नहीं है। जिन लोगों को अपनी बातें कहनी हैं उन्हें पार्टी में अपनी बातें कहनी चाहिए। पहले वे बहुत अच्छा कर रहे थे, अचानक उनको क्या हो गया पता नहीं। हमसे एक महीने से कोई बात नहीं हुयी है। हर आदमी को बोलने का अधिकार है।
मुख्यमंत्री ने आगे कहा कि हमलोग तो उनकी बहुत इज्जत करते हैं। पहले वे हमारी पार्टी में थे, फिर चले गए, फिर आए, फिर चले गए। हमको तो आश्चर्य लगता है कि हम इतना प्रेम करते हैं, इतना हमारा स्नेह है लेकिन फिर भी कोई चला जाता है तो हम क्या कर सकते हैं। जिनको जहां जाना है जाएं। अब इस संदर्भ में मुझसे आगे मत पूछिएगा । जनता दल यूनाइटेड के लिए इन सब बातों का कोई मतलब नहीं है। पहले कोई नहीं चाहता था इन्हें पार्टी में लाना लेकिन अंत में मेरे ही कहने पर पार्टी के लोग राजी हुए। हम तो उनका सम्मान करते हैं। हमारा तो उनसे प्रेम का भाव है लेकिन कुछ दिनों से आपलोग उनका व्यवहार देख ही रहे हैं।
उपेंद्र कुशवाहा द्वारा पार्टी नहीं छोड़ने की बात कहे जाने पर मुख्यमंत्री ने कहा कि जिसको जो मर्जी हो, वह करे। विधानसभा चुनाव में जब हमलोगों को 43 सीटें ही मिली थीं तो वे क्यों हमारे यहां चले आये। वर्ष 2020 के चुनाव में कम सीटें मिलने का हमें दुख था। यह सबों को पता है कि हमलोगों को विधानसभा चुनाव में कम सीटें मिलीं क्योंकि हमलोग जिनके साथ थे वे एकजुट होकर हमें वोट नहीं दिए, जबकि उनको हमारा पूरा वोट मिला। जिसके कारण वे लोग ज्यादा सीटें जीत पाये। मुझे इन सब बातों पर आश्चर्य लगता है। पार्टी में हमारे ही कहने पर उपेंद्र कुशवाहा को लेकर सभी लोग सहमत हुए थे।
उन्होंने कहा कि हमलोग चाहते थे कि अगर कोई बात है तो हमसे आकर कहें। उपेंद्र कुशवाहा ट्वीट कर रहे हैं या बोल देते हैं उस पर आपलोग हमसे पूछ देते हैं। इसका कोई मतलब नहीं है। जिनको जो इच्छा हो, वो बोलते रहें। राजनीति में सबकी अपनी-अपनी इच्छा होती है। किसी के आने और जाने की अपनी इच्छा होती है। पार्टी को इन सब बातों से कोई मतलब नहीं है। पार्टी के लोग अपने काम में लगे रहते हैं। हमारी पार्टी के सदस्यों की संख्या पहले से और ज्यादा बढ़ गई है। हम किसी का भी नुकसान नहीं करते हैं। अपने लाभ के लिए हम कुछ नहीं करते हैं। हम समाज के उत्थान के लिए काम करते रहते हैं शराबबंदी लागू होने से कई लोग मेरे खिलाफ हो गये हैं। अभी हम समाधान यात्रा पर जाते हैं तो चलकर देख लीजिए कि महिलाओं में कितनी खुशी है। हमलोग सभी जातियों और सभी धर्मों के लोगों के लिए काम करते हैं। समाधान यात्रा के दौरान लड़के-लड़कियां, पुरुष-महिलाएं सभी लोग मिलकर मुझसे अपनी बात एवं समस्या कहते हैं। इसी को लेकर हमलोग बिहार में घूम रहे हैं।
देश की यात्रा पर जाने के सवाल पर मुख्यमंत्री ने कहा कि एक बार हम प्रत्येक पार्टियों से बातचीत कर चुके हैं। अभी कई पार्टियों का अपना-अपना कार्यक्रम चल रहा है। जब उनका कार्यक्रम समाप्त हो जायेगा और वे बुलायेंगे तो कितने दल आगे मिलकर काम करेंगे, यह बैठकर तय हो जायेगा। अभी सभी पार्टियां अपने-अपने काम में लगी हैं। लोकसभा चुनाव में अब ज्यादा दिन नहीं हैं। हमलोग इंतजार कर रहे हैं कि सभी दल एक साथ बैठकर चर्चा करें। बिहार में हमलोग सात पार्टियों को साथ में लेकर सरकार चला रहे हैं। बिहार में इसको लेकर कोई दिक्कत नहीं है लेकिन अगर देश भर में विपक्षी दलों को एकजुट होना है तो सभी दलों के साथ बैठकर बातचीत होगी। कांग्रेस की अभी यात्रा चल रही है। सभी लोग जब फ्री हो जायेंगे तो मिल बैठकर चर्चा करेंगे।

 

 

LEAVE A REPLY