तेजस्वी पर सीबीआई जाँच प्रभावित करने का आरोप

47
0
SHARE
CBI

संवाददाता.पटना.आईआरसीटीसी घोटाले की जांच में लगे सीबीआई अधिकारियों को परिणाम भुगतने के लिए तैयार रहने के संबंधित तेजस्वी यादव के बयान को धमकी बताते हुए सुशील मोदी ने उनपर जांच प्रभावित करने का आरोप लगाया है।
पूर्व उपमुख्यमंत्री एवं राज्यसभा सदस्य सुशील कुमार मोदी ने कहा कि उपमुख्यमंत्री तेजस्वी प्रसाद यादव केंद्रीय जांच एजेंसी के अधिकारियों को खुली धमकी देकर भ्रष्टचार के मामले की जांच को गलत तरीके से प्रभावित करने पर तुले हैं।
श्री मोदी ने कहा कि सीबीआई अधिकारियों के माता-पिता और बच्चों तक से बदला लेने की बात कही जा रही है। यह भी कहा गया कि जो अफसर उनके विरुद्ध आईआरसीटीसी घोटाले की जांच में लगे हैं, उन्हें सरकार बदलने या रिटायर होने पर परिणाम भुगतने के लिए तैयार रहना चाहिए।
उन्होंने कहा कि एक अभियुक्त ( तेजस्वी यादव) का धमकी देना न्याय प्रक्रिया को गंभीर चुनौती है।उन्होंने कहा कि लालू प्रसाद चारा घोटाला में दोषी पाए गए, लेकिन उन्होंने कभी जांच एजेंसी को धमकी नहीं दी।9 अगस्त को बिहार में सरकार बदलने से पहले तक जदयू के जो लोग सीबीआई को तेजस्वी यादव के विरुद्ध दस्तावेज उपलब्ध करा रहे थे, वही अब जांच एजेंसी पर सवाल उठा रहे हैं।
श्री मोदी ने कहा कि शिवानंद तिवारी चारा घोटाला की जांच सीबीआई से कराने की मांग लेकर हाईकोर्ट गए थे, लेकिन अब लालू परिवार का भरोसा जीतने के लिए पलटी मार रहे हैं। आइआरसीटीसी घोटाले में सीबीआई इसी 28 सितम्बर को आरोप तय करने वाली है, इसलिए बेचैनी है।
श्री मोदी ने कहा कि तेजस्वी यादव को 2018 में जमानत मिलने के बाद दो साल तक न्याय प्रक्रिया कोविड के कारण ठप रही। उनके वकील ने 11 बार ट्रायल कोर्ट से समय मांग कर मामले को लटकाने की कोशिश की। सीबीआई सोया नहीं थी, लेकिन अब राजद-जदयू की नींद खराब होने वाली है।

 

LEAVE A REPLY