मंथन

जहर पीने वाले कभी मरते नहीं

धनंजय कुमार. 30 जनवरी- राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की पुण्यतिथि.महात्मा गांधी को राष्ट्रपिता कहकर सबसे पहले सुभाष चन्द्र बोस ने संबोधित किया था. जबकि ‘महात्मा’ का...

आसान नहीं लालू के वोट का सफाया

प्रमोद दत्त. राजद सुप्रीमो की सातवीं जेल-यात्रा से यह कयास लगाए जा रहे हैं कि बिहार की राजनीति से उनकी जड़ें उखड़ जाएगी.एनडीए नेता व...

एक बार फिर बिहार में लालू बनाम नीतीश

प्रमोद दत्त. समाजवादियों के टूटने-जुड़ने की एक और पटकथा बिहार में लिखी गई.17 वर्षों तक एनडीए में रहनेवाले नीतीश कुमार,लालू प्रसाद के साथ तीन वर्षों...

बैकफुट पर जाऐंगे लालू,क्या है उनकी भावी रणनीति ?

प्रमोद दत्त. लालू प्रसाद अपने स्वाभाव के अनुसार किसी कीमत पर सत्ता से दूर नहीं होना चाहेंगें.खासकर वर्तमान परिस्थितियों में,जब उनपर आफतों का पहाड़ टूटा...

अंतरराष्ट्रीय मंच पर मोदी,छोटी बातें-छोटा कद

मुकेश महान. भारत के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने हेग में तीन हजार भारतीयों को संबोधित किया .संबोधन की प्रक्रिया भले ही स्वाभावविक हो, लेकिन संबोधन...

किन्नर महोत्सव के मामले में बिहार आगे

मुकेश महान. बिहार में दूसरा किन्नर महोत्सव का आयोजन किया गया. यह आयोजन देखना सुखद रहा .गौरतलब है कि बिहार सरकार पिछले साल से यह...

भारत में प्रजातंत्र का भविष्य

वैशाली सिन्हा. अधिकारों की असमानता तथा अवसरों की विषमता आन्दोलनों को जन्म देती है । इस प्रकार राजतंत्र तथा कुलीनतंत्र के ध्वंसावशेषों पर प्रजातंत्र राजनैतिक...

स्वच्छता संस्कार है,पुरस्कार भी

डॉ नीतू नवगीत. स्वच्छता जिंदगी जीने का एक विशिष्ट नजरिया है । राष्ट्रपिता महात्मा गांधी ने कहा था यदि स्वच्छता और स्वतंत्रता में से एक...

किसानों के आंसुओं की कीमत

डॉ नीतू नवगीत. चंपारण के किसानों के आंसू पोछने के लिए सौ साल पहले मोहनदास करमचंद गांधी चंपारण आए थे । किसान तब बेहाल थे...

खतरनाक है सेना पर पत्थरबाजी

डॉ नीतू नवगीत. जब सेना और आतंकवादियों के बीच मुठभेड़ चल रही हो तो सेना के खिलाफ प्रदर्शन के लिए सड़कों पर आने वाले लोग...