अधिकारियों-कर्मचारियों की रिपोर्ट पोजेटिव,अरवल जिला प्रशासन परेशान

228
0
SHARE

संवाददाता.अरवल.कोरोना संक्रमण का चैन टूटने का नाम नहीं ले रहा हैं. जिला में अबतक 166 व्यक्ति कोरोना वायरस से संक्रमित हुए हैं. जिसमें 115 लोग ठीक होकर घर भेजे गए हैं. एक महिला की मृत्यु हुई हैं और 50 लोगों का इलाज अस्पतालों में चल रहा हैं.

अरवल जिला में कोरोना वायरस से प्रशासनिक महकमा हलकान हैं. अबतक कई बड़े अधिकारी से लेकर कर्मचारी तक पोजेटिव हो चुके हैं. बड़े अधिकारियों में डीडीसी, सिविल सर्जन, दो सदर अस्पताल के डॉक्टर, एक निजी क्लिनिक चलाने वाला जहानाबाद में कार्यरत डॉक्टर, मनरेगा के जिला कार्यक्रम पदाधिकारी, डीआरडीए के अभियंता, दो अवर निरीक्षक, डीएम के ड्राइवर, डीएम के दो अंगरक्षक एक हॉउस गार्ड सिविल सर्जन की पत्नी, अवर निरीक्षक की पत्नी, सिविल  कार्यालय के लिपिक, ड्राइवर, कम्प्यूटर ऑपरेटर, सदर अस्पताल में कार्यरत एक एएनएम, एक दो करपी में तैनात एएनएम का रिपोर्ट अबतक पोजेटिव आने से जिला प्रशासन हलकान हो गया हैं.

कोरोना संक्रमण के कारण तीन दिनों तक समाहरणालय बंद रहा. सिविल सर्जन के रिपोर्ट पोजेटिव आने के कारण सिविल सर्जन कार्यालय तीन दिनों तक बंद कर सेनेटाइज किया गया.

जिला प्रशासन द्वारा हर दिन लोगों को जागरूकता किया गया लेकिन खुद प्रशासनिक महकमा द्वारा बरती गई लापरवाही का परिणाम हुआ कि कई बड़े से छोटे कर्मचारी तक पोजेटिव हो गए. डीडीसी के तीन रिपोर्ट निगेटिव आने के बाद अस्पताल से छुट्टी दें दी गई. फिलहाल वे आठ दिनों के होम कोरोटाइन में हैं.

 

LEAVE A REPLY