एम्स पहुंचे स्वास्थ्य मंत्री,व्यवस्था से संतुष्ट

286
0
SHARE

संवाददाता.पटना.सुरक्षा मानकों के साथ स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय ने बुधवार को एम्स (अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान) का निरीक्षण कर बताया कि एम्स सहित कोविड अस्पतालों में मरीजों को बेहतर स्वास्थ्य सेवाएं मिल रही हैं। इस दौरान श्री पांडेय पीपीई किट पहनकर कोविड मरीजों से मिले और उनका कुशलक्षेम जाना। निरीक्षण के दौरान मरीजों ने अस्पताल प्रबंधन और व्यवस्था पर संतोष जताते हुए प्रसन्नता जाहिर की। स्वास्थ्य मंत्री के पूछने पर कोविड मरीजों ने बताया कि सभी पालियों में चिकित्सक, नर्स और पारा मेडिकलकर्मी लगातार उपलब्ध रहते हैं।
एम्स के निरीक्षण के बाद संवाददाताओं से स्वास्थ्य मंत्री ने बताया कि एम्स में कुल 30 वार्ड हैं, जिसमें 450 बेड की क्षमता का इलाज वाला कोविड डेडिकेटेड हास्पिटल बनाया गया है। इसमें कुल 76 बेड आईसीयू के वेंटिलेटरयुक्त हैं। इसके अतिरिक्त 21 वेंटिलेटरों की भी व्यवस्था की गई है। सभी बेडों पर आक्सीजन पाइप लाइन से आक्सीजन की सप्लाई होती है। साथ ही अस्पताल परिसर के अंदर जन औषधि केंद्र खोलने की भी कार्रवाई की जा रही है। उन्होंने बताया कि प्लाज्मा का कलेक्शन एवं आवश्यक मरीजों के प्लाजमाथेरेपी भी की जा रही है। अभी तक 69 मरीजों को प्लाजमाथेरेपी से इलाज किया जा चुका है। 15 जुलाई से वैक्सीन का पहला ट्रायल शुरू हुआ था। कल यानि गुरूवार से वैक्सीन का दूसरा डोज देने की शुरूआत की जाएगी। अभी तक 39 लोगों पर वैक्सीन का ट्रायल हुआ है।
वहीं दूसरी ओर जांच के संबंध में स्वास्थ्य मंत्री ने बताया कि सूबे में लगातार कोविड जांच में तेजी आ रही है। जांच का आंकड़ा जहां पांच लाख पार कर चुका है, वहीं बुधवार को अभी तक का सर्वाधिक 17 हजार 794 मरीजों की जांच की गई। उन्होंने बताया कि स्वास्थ्य विभाग के उच्चाधिकारियों को मुख्यालय स्तर से राज्य के सभी मेडिकल कालेज सह अस्पतालों के कोविड वार्ड की मानिटरिंग सुनिश्चित करने का निर्देश दिया गया है। इसके आलावे सभी छह प्राइवेट मेडिकल कालेज सह अस्पतालों में 15 अगस्त तक आरटीपीसीआर मशीन से जांच सुनिश्चित कराने का भी निर्देश दिया गया है। साथ ही स्वास्थ्य विभाग द्वारा सभी जिलों में आपूर्ति करने के बाद पर्याप्त मात्रा में आवश्यक उपकरण एवं किट्स राज्य के भंडार में उपलब्ध हैं। पीपीई किट-2 लाख 30 हजार 467, एन 95 मास्क- 4 लाख 91 हजार 742, वीटीएम-एक लाख 39 हजार 395 एवं रैपिड एंटीजन टेस्ट किट लगभग 80 हजार स्टाक हैं।

 

 

LEAVE A REPLY