मुख्यमंत्री ने भोजपुर में जल जीवन हरियाली कार्यों का किया निरीक्षण

159
0
SHARE

संवाददाता.पटना.मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने जल – जीवन हरियाली यात्रा के क्रम में भोजपुर जिला अंतर्गत गड़हनी प्रखड के ईचरी पंचायत स्थित भेड़री गांव में जल – जीवन हरियाली अभियान के तहत किये गये कार्यों का निरीक्षण किया । निरीक्षण के क्रम में मुख्यमंत्री ने बागवानी मिशन के तहत पॉली हाउस में जरबेरा फूल की खेती, ड्रिप सिंचाइ पद्धति पर आधारित मिश्रित खेती , वर्मी कंपोस्ट पीट, डी कंपोस्ट पीट , कृषि यांत्रिककरण मेला, परिवहन मेला , किसान गोष्ठी , सरकारी योजनाओं का स्टाल भ्रमण तथा मत्स्य पालन हेतु जीर्णोद्धार द्वार किये गये तालाबों का अवलोकन किया ।

जिलाधिकारी , भोजपुर ने कार्यक्रम स्थत पर संचालित संपूर्ण कार्यों एवं गतिविधियों के बार में चरणबद्ध तरीके से मुख्यमंत्री को जानकारी दी।मुख्यमंत्री बागवानी मिशन के तहत सरकारी अनुदान से 2000 वर्ग फीट में 66 वर्षीय महिला कृषक श्रीमती कांति किरण द्वारा  जरबेरा फूल सरंक्षित पॉलीहाउस का मुख्यमंत्री ने अवलोकन कर स्वरोजगर के रूप में विकसित पॉलीहाउस एवं जरबेरा फूल की खेती के बारे में जानकारी प्राप्त को । तत्पश्चात उन्होंने टपकन सिंचाई पद्धति पर आधारित अमरूद एवं सब्जी की मिश्रित खेती का अवलोकन किया ।

मुख्यमंत्री ने समग्र गव्य विकास योजना के तहत पाँच लाभुकों को प्रथम चरण के अनुदान का चेक प्रदान किया । मुख्यमंत्री ने फसल अवशेष प्रबंधन के तहत 15 कृषकों को अनुदानित दर पर कृषि यंत्र उपलब्ध कराने हेतु स्वीकृति पत्र प्रदान किया साथ ही कस्टम हायरिंग योजना अंतर्गत  चार प्रखंडो के जीविका संकुल को 10 लाख रूपये की लगत वाली कृषि यंत्र बैंक की स्थापना का स्वीकृति पत्र प्रदान किया ।

मुख्यमंत्री ने कोईलवर प्रखंड के शक्ति जीविका महिला संकुल स्तरीय संघ , बिहियों को मिलन जीविका महिला संकुल स्तरीय संघ, पीरी के नारो जीविका महिला संकुल स्तरीय संघ , संदेश प्रखंड के आदर्श जीविका महिला संकुल स्तरीय संघ को स्वीकृत पत्र प्रदान किया।

मुख्यमंत्री ने मुख्यमंत्री ग्राम परिवहन योजना के तहत चार लाभुकों को क्रय किये गये वाहनों की चाभी सौंपी तथा कुल 60 लाभुकों के बीच वाहनों का वितरण किया। मुख्यमंत्री ने सरकार के विकासात्मक एवं जनकल्याणकारी योजनाओं पर आधारित 25 स्टॉल का भ्रमण कर अवलोकल किया।  उन्होने वर्मी कम्पोस्ट पीट तथा फसल अवशेष को अपघटित करनेवाले जैविक बैक्टीरिया पीट का अवलोकन किया । तत्पश्चात कृषि विभाग के भूमि संरक्षण द्वारा कृषि सिंचाई योजना के माध्यम से   6 निर्मित तालाबों का अवलोकन किया।

 

LEAVE A REPLY