संस्कृति/साहित्य

अब विज्ञान की बातें भी होंगी मैथिली भाषा में

संवाददाता.नई दिल्ली. मैथिली भाषियों के लिए अब सहज और सरज भाषा में पुस्तकें प्रकाशित होंगी। उनके लिए पत्रिका, ब्लाग लेखन, टीवी-रेडियो कार्यक्रम का निर्माण...

कोरोना काल में वर्चुअल कवि-सम्मेलन,साहित्य एवं समाज के लिए शुभ संकेत

प्रियंका सौरभ.                       (क्या कोरोना काल में चल रही आभासी कवि सम्मेलनों की व्यवस्था तदर्थ...

विश्वसनीयता के संकट में पत्रकारिता

प्रियंका सौरभ. पूरी दुनिया ने पत्रकारिता को अपना एक अभिन्न और खास अंग मना है और साथ ही लोकतंत्र में इसको चौथा स्तंभ के रूप...

कोरोना विदाई गीत

-डा॰रामबदन बरूआ.  जिस दिशा से आया कोरोना उसी दिशा में जाएगा। ऐसे भयावह महामारी को भारत मार भगाएगा।। चला था नादिर हिंद लूटने वह इसे ना लूट सका। विश्व-विजेता सिकंदर भी नहीं...

कोरोना…लॉकडाउन….और बतकुचन

सत्यपाल श्रेष्ठ. रह-रह के मौसम के मिजाज मजाकिया हो जा रहलो ह मनीष दा! अइसन समय पर यकीन कम, शक जादे होब हई मुन्ना! मौसम...

कोरोना को हराना है

कोरोना को हराना है रेल को चलाना है । रेलों से पहुँचेगी आवश्यक सामग्री सब दूर जनता को मिलेगी कोरोना से लड़ने की ताक़त भरपूर । लक्ष्मण रेखा...

पुस्तक मेला में मंच और अभिनय का समागम

संवाददाता.पटना.समय इंडिया( नई दिल्ली) की ओर से यहां गांधी मैदान में आयोजित 12 दिवसीय राष्ट्रीय पुस्तक मेला में शनिवार का दिन बेहद खास रहा।...

डॉ नीतू नवगीत की छठ गीतों की प्रस्तुति पर मंत्रमुग्ध हुए...

संवाददाता.पटना.यूथ हॉस्टल एसोसिएशन ऑफ इण्डिया(बिहार स्टेट ब्रांच)और सांस्कृतिक संस्था नवगीतिका लोक रसधार द्वारा लोक आस्था के महापर्व छठ से जुड़े पारंपरिक गीतों पर आधारित...

कलम के जादूगर,रामवृक्ष बेनीपुरी

वीणा बेनीपुरी. सितंबर के हीं महीने में 7 तारीख को बेनीपुरी जी की पुण्यतिथि मनाई जाएगी, तो स्वाभाविक रूप से उनकी याद में कुछ संस्मरण...

“हिंदी लघु कथा:संरचना और मूल्यांकन” विषयक संगोष्ठी

संवाददाता.पटना.प्रसिद्ध कथाकार- उपन्यासकार डॉ संतोष दीक्षित का मानना है कि लघुकथा एक ऐसी विधा है जो अत्यधिक संतुलन और सजगता की मांग करती है।...