सबका साथ,सबका विकास,सबका विश्वास को समर्पित मोदी सरकार-चौबे

144
0
SHARE

संवाददाता.पटना.केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण राज्य मंत्री अश्विनी कुमार चौबे ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के नेतृत्व में देश का मान पूरी दुनिया में बढ़ा है। 6 साल में देश का सर्वांगीण विकास हुआ। सबका साथ, सबका विश्वास व सबका विकास हमारा मूल मंत्र है। इसे आधार मानकर जनता की सेवा में जुटे हुए हैं।

केंद्रीय स्वास्थ्य राज्य मंत्री श्री चौबे बिहार जन संवाद कार्यक्रम के तहत बक्सर संसदीय क्षेत्र के ब्रह्मपुर विधानसभा की जनता एवं भाजपा कार्यकर्ताओं को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने भाजपा के वरिष्ठ नेता स्वर्गीय कैलाशपति मिश्र एवं पूर्व सांसद स्वर्गीय लाल मुनी चौबे को याद किया। उन्हें श्रद्धा सुमन अर्पित की।

श्री चौबे ने कहा कि मौजूदा समय में देश कोरोना के विरूद्ध लड़ाई लड़ रहा है। इस लड़ाई में कार्यकर्ताओं ने महत्वपूर्ण भूमिका का निर्वहन किया है। जनसेवा जनार्दन सेवा का अद्भुत उदाहरण प्रस्तुत किया है। इसके लिए वे बधाई के पात्र हैं। इसे निरंतर जारी रखना है। जरूरतमंदों की मदद करनी है। केंद्रीय स्वास्थ्य राज्य मंत्री श्री चौबे ने कहा कि कोविड-19 के विरुद्ध जंग में किसी तरह की कमी नहीं छोड़ी गई है। हर संभव मदद उपलब्ध कराई गई है। मैं नियमित रूप से अपने संसदीय क्षेत्र एवं बिहार के अधिकारियों के संपर्क में रहता हूं। नियमित अंतराल पर समीक्षा की जाती है।

श्री चौबे ने कहा कि इस मुश्किल घड़ी में भी कांग्रेस एवं राजद राजनीति करने से बाज नहीं आते। दोनों पार्टियां को जब-जब सत्ता मिली। केवल और सिर्फ केवल शोषण करने का कार्य किया। भ्रष्टाचार, जातिवाद, परिवारवाद एवं जंगलराज को बढ़ावा मिला। इनका विकास से कोई लेना देना नहीं है। कांग्रेस और राजद गरीब कल्याण की बात करते हैं। इनका ही शोषण करते हैं। उनकी हक मारी करते हैं। बिहार की जनता इनके कारनामे को जानती है। आगामी विधानसभा चुनाव में बिहार की जनता इन्हें सबक सिखाएगी। देश का नेतृत्व आज मजबूत हाथों में है। जो भारत की तरफ आंख दिखाता है। उसे मुंहतोड़ जवाब मिलता है।

उन्होंने आयुष्मान भारत एवं उज्जवला गैस योजना का जिक्र करते हुए कहा कि इससे गरीब लोगों को काफी लाभ मिला। गरीब कल्याण रोजगार अभियान के तहत जो प्रवासी भाई बिहार वापस लौटे हैं। उन्हें रूचि के अनुसार उनके गांव में ही काम दिलाने की व्यवस्था केंद्र सरकार ने की है।  इसमें बिहार के 32 जिलों को शामिल किया गया है। बिहार में उद्योगों का विकास हो क्षेत्र में रोजगार का सृजन हो इसके लिए आत्मनिर्भर भारत पैकेज के तहत उद्योगों को बढ़ाने के लिए केंद्र सरकार द्वारा कई घोषणाएं की गई है। जिन्हें धरातल पर उतारने का काम भी शुरू कर दिया गया है।

 

 

LEAVE A REPLY