टी के घोष एकेडमी के नए भवन का उदघाटन

197
0
SHARE

संवाददाता.पटना.देश  के प्रथम राष्ट्रपति डा.राजेन्द्र प्रसाद,सर सच्चिदानंद सिन्हा, डा.विधानचन्द्र राय जैसी शख्सीयत पटना के जिस टी के घोष एकेडमी के कभी छात्र रहे थे उसके लिए राज्य सरकार द्वारा 23 करोड़ की लागत से जमीन अधिग्रहण कर 7.5 करोड़ की लागत से नवनिर्मित भवन का उद्घाटन उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने किया। इस मौके पर उन्होंने कहा कि राज्य की शेष बची चार हजार पंचायतों में उच्च माध्यमिक विद्यालयों की स्थापना में खुले में शौचमुक्त होने वाली पंचायतों को प्राथमिकता दी जा जायेगी।

मोदी ने बताया कि राज्य में सभी तरह की राज्य व केन्द्र प्रायोजित योजनाओं के लाभुकों की संख्या 3.6 करोड़ हैं जिनके बैंक खातों को आधार से जोड़ने की समय सीमा को बढ़ा कर 31 मार्च तक कर दिया गया है।

श्री मोदी ने कहा कि 2005 में जहां नौवीं कक्षा में मात्र 1.63 लाख लड़कियों का नामांकन था वहीं अब उनकी संख्या करीब छह गुना बढ़ कर 7.13 लाख हो गई है। मध्य विद्यालयों को उच्च माध्यमिक विद्यालयों में उत्क्रमित करने के लिए जमीन की कमी को देखते हुए एक से डेढ़ एकड़ की अनिवार्यता को संशोधित कर पौन एकड़ कर दिया गया है।

छात्र-छात्राओं से जुड़ी सरकार की तमाम योजनाओं मसलन साइकिल, पोशाक, छात्रवृति आदि की राशि  का भुगतान बैंक खातों में डीबीटी के जरिए किया रहा है। एससी, एसटी, पिछड़ा व अत्यंत पिछड़ा वर्ग के छात्र-छात्राओं को मेधावृत्ति की राशि  का भुगतान संबंधित विभागों की जगह अब शिक्षा विभाग के जरिए किया जायेगा।आगामी वित्तीय वर्ष से सभी तरह की योजनाओं के लाभुकों को भुगतान उनके बैंक खातों को आधार से जोड़ कर किया जायेगा।

 

LEAVE A REPLY