बिहार में मानव श्रृंखला,फिर बना इतिहास

162
0
SHARE

संवाददाता.पटना.रविवार को बिहार में जल-जीवन-हरियाली अभियान के समर्थन व नशा-बाल विवाह-दहेज जैसी कुप्रथा के विरोध में मानव श्रृंखला बनायी गयी।पूरे बिहार के सभी जिलों को मानव श्रृंखला ने जोड़ दिया।यह मानव श्रृंखला पूरे बिहार में आपस में जुड़ी हुयी थी। पूर्व में भी 2017 में मद्य निषेध के समर्थन में तथा 2018 में बाल विवाह एवं दहेज प्रथा के विरूद्ध भी मानव श्रृंखला बनायी गयी थी।

सामाजिक अभियानों के प्रति जागरूकता के क्रम में आज की यह मानव श्रृंखला जल-जीवन-हरियाली अभियान के समर्थन में, नशा मुक्ति के समर्थन में तथा दहेज प्रथा एवं बाल विवाह के विरोध में बनायी गयी। सभी जिलों में बड़ी संख्या में लोगों ने पूरे उत्साह के साथ इसमें भाग लिया। 38 जिलों में लगभग 18034 किलोमीटर मानव श्रृंखला बनी जिसमें 51671389 लोगों ने भाग लिया।

इस मौके पर  बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि आज विश्व के इतिहास में एक ऐतिहासिक दिन है। बिहार सरकार द्वारा चलाये जा रहे जल-जीवन-हरियाली अभियान, नशा मुक्ति अभियान तथा बाल विवाह एवं दहेज प्रथा के विरूद्ध अभियान के प्रति जनमानस को जागरूक करने के लिये आज पूरे बिहार के सभी जिलों में मानव श्रृंखला का निर्माण किया गया। आज पूरा विश्व जलवायु परिवर्तन के दुष्प्रभावों से ग्रसित हो रहा है। स्थिति दिन-प्रतिदिन बिगड़ती जा रही है। इसके चलते आगे आने वाली पीढ़ी को भयंकर नुकसान होने वाला है। इसी को ध्यान में रखते हुये बिहार विधान मंडल के सभी सदस्यों के साथ 13 जुलाई 2019 को गहन विमर्श किया गया। यह चर्चा पूरे दिन चली तथा इसके बाद पूरे बिहार में जल-जीवन-हरियाली अभियान चलाने का निर्णय लिया गया।

उन्होंने कहा कि जल-जीवन-हरियाली अभियान का मतलब है कि जल और हरियाली के बीच जीवन है अर्थात् यदि जल और हरियाली है तभी जीवन सुरक्षित है। इसलिये इस अभियान का नाम जल-जीवन-हरियाली अभियान रखा गया। इस अभियान के लिये विस्तृत कार्य योजना बनायी गयी तथा मिशन मोड में इस योजना को कार्यान्वित किया जा रहा है। इसी क्रम में माननीय मुख्यमंत्री ने बिहार के सभी जिलों में कम-से-कम एक स्थल पर यात्रा की। इस यात्रा को जल-जीवन-हरियाली यात्रा नाम दिया गया। जल-जीवन-हरियाली यात्रा के दौरान देखा गया कि बिहार सरकार द्वारा चलाये गये अभियानों के कारण लोग इन विषयों के प्रति जागरूक हो रहे हैं।

इस अवसर पर माननीय मुख्यमंत्री ने पूरे बिहार के नागरिकों को धन्यवाद दिया जिन्होंने अपने अभूतपूर्व समर्थन से इन अभियानों के प्रति अपनी जागरूकता का प्रदर्शन किया है। उन्होंने सभी जनप्रतिनिधियों, मुख्य सचिव तथा सरकारी पदाधिकारियों एवं कर्मचारियों को भी धन्यवाद दिया जिनके नेतृत्व में सभी जिलों में मानव श्रृंखला का आयोजन सफलतापूर्वक किया गया। माननीय मुख्यमंत्री ने सभी विद्यालयों के बच्चों को भी धन्यवाद दिया है जिन्होंने विशेष उत्साह के साथ इस मानव श्रृंखला में भाग लिया।

गाँधी मैदान में मानव श्रृंखला के अवसर पर जल पुरूष राजेन्द्र सिंह द्वारा मुख्यमंत्री का अभिनंदन किया गया। मुख्यमंत्री ने कहा कि इस अभिनंदन की पात्र बिहार की जनता है जिसके द्वारा बढ़-चढ़ कर इस कार्यक्रम में हिस्सा लिया गया। उन्होंनें इस अवसर पर गाँधी मैदान में उपस्थित जल पुरूष राजेन्द्र सिंह, उपमुख्यमंत्री, बिहार विधान सभा अध्यक्ष, बिहार विधान परिषद के कार्यकारी सभापति, यू0एन0ई0पी0 के कंट्री हेड अतुल बगई एवं गणमान्य महानुभावों को भी धन्यवाद दिया जिन्होंने उपस्थित रह कर इस कार्यक्रम के प्रति अपना समर्थन व्यक्त किया।

 

 

LEAVE A REPLY