पड़ताल

बिहार सरकार में जब नहीं गली दाल,तो आ गए बीसीए को...

मोहन कुमार.  किसी भी व्यक्ति के द्वारा पूर्व में किए गये कार्य उसके व्यक्तित्व और कृतित्व का आधार माना जाता है, बीसीए के अध्यक्ष राकेश...

बाढ़ नियंत्रण के बदले अब किया जायेगा बाढ़ प्रबंधन

दिनेश मिश्रा. आज़ाद भारत में बिहार में  1948 में आयी पहली बाढ़ पर बहस चल रही थी. तब दीप नारायण सिंह सिंचाई मंत्री थे। उनका...

सभी किसान परिवारों तक नहीं पहुंच रहा है किसान सम्मान

 डॉo सत्यवान सौरभ.  प्रधानमंत्री किसान निधि (पीएम-केएसएएन) भारत सरकार की पहली सार्वभौमिक बुनियादी आय-प्रदान  करने  की योजना है, जो भूमि पर आधारित किसानों के लिए काफी...

बिहार में अबतक मरने वालों मे तीस फीसदी ही कोरोना संक्रमित

अभिजीत पाण्डेय. पटना.बिहार में कोरोना संक्रमण से अबतक जान गंवाने वाले 125 लोगों में से 82 लोग पहले से बीमार थे। मरने वाले 7 लोगों...

लीड स्कूल सर्वेक्षण,60% अभिभावकों ने कहा ऑनलाइन शिक्षा प्रभावकारी

मुंबई,  वर्तमान में देश के सबसे बड़े ऑनलाइन विद्यालय चलाने वाले लीड स्कूल द्वारा हाल ही में किए एक सर्वेक्षण से पता चला है...

मजदूरों के गुनाहगार और भी हैं…?

राकेश प्रवीर. क्या सिर्फ गरीब, दिहाड़ी मजदूर ही समस्याग्रस्त है? क्या और किसी कामगार वर्ग पर लॉकडाउन का प्रभाव नहीं पड़ा है? ऐसा नहीं है...

आदिम जनजाति के विशेष आरक्षण का दिखने लगा असर

संवाददाता. रांची.कोरोना से फिलहाल जूझ रहे झारखंड ने आदिम जनजाति के लोगों का जीवन स्तर ऊंचा उठाने के मोर्चे पर बड़ी छलांग लगाई है। एक...

भ्रष्टाचार के पर्याय लालू,फिर भी मिलते हैं वोट…जाने क्या है राज...

जे.एन.ठाकुर उस दौर में मीडिया और लोगों के बीच धारणा बनी थी कि लालू यादव भ्रष्ट हैं और 1990-2005 के बीच बिहार में उनकी वजह...

सोनपुर मेला का घटता आकर्षण

अनूप नारायण सिंह. विश्व प्रसिद्ध सोनपुर मेला के सामने अस्तित्व का संकट गहराता जा रहा है। पहले हाथी फिर चिड़िया और अब  सभी जंगली जानवर...

पटना की नई पहचान-सभ्यता द्वार

अनूप नारायण सिंह. पटना.मुंबई के गेटवे ऑफ इंडिया और नई दिल्ली के इंडिया गेट की तर्ज पर पटना में गंगा के तट पर सभ्यता द्वार...