कृषि कानूनों को डेढ़ साल तक रोकने का विकल्प गलत-पप्पू यादव

0
SHARE

संवाददाता.पटना.पहले केंद्र सरकार ने किसान विरोधी कानून लाया और दो महीने तक किसानों को ठंड में सड़क पर रहने को मजबूर करने के बाद अब डेढ़ साल तक कृषि कानूनों को रोकने का विकल्प देना गलत है. तीनों कृषि कानूनों को पूरी तरह से निरस्त किए जाए, यही किसानों की मांग है और हम उनके साथ हर स्थिति में खड़े हैं. उक्त बातें जन अधिकार पार्टी (लो) के राष्ट्रीय अध्यक्ष पप्पू यादव ने बिहार राज्य पंचायत परिषद् भवन में आयोजित पार्टी की राज्य कार्यकारिणी की बैठक को सम्बोधित करते हुए कही.
उन्होंने कहा कि किसानों को आतंकवादी, खालिस्तानी, पाकिस्तान और चीन समर्थक और देशद्रोही तक कहा गया. केंद्र और राज्य की सरकारों ने मिलकर किसानों की जमीन हड़प कर पूंजीपतियों के हवाले करने की साजिश रच रही हैं. किसानों के समर्थन में कल हमारी पार्टी नेताजी सुभाष चन्द्र बोस जी की जयंती के अवसर पर राज भवन मार्च निकालेगी.
बिहार में मंडी सिस्टम लागू करने की मांग करते हुए जाप अध्यक्ष ने कहा कि वर्तमान की पैक्स व्यवस्था किसानों के हित में नहीं है. देश में सबसे कम प्रति व्यक्ति आय बिहार के किसानों की है. किसानों की स्थिति को सुधारने के लिए मंडी सिस्टम को पुन: लागू किया जाना चाहिए. साथ ही बिहार में किसानों को 60 फसलों पर एमएसपी मिले.
बिहार सरकार पर हमला बोलते हुए पप्पू यादव ने कहा कि प्रदेश में सत्ता का हस्तनांतरण हो चुका है. चुने हुए नेता नहीं बल्कि अधिकारी प्रदेश चला रहे हैं. आज शासन से ही बिहार की जनता को खतरा है. यदि सत्ता ही जनता के खिलाफ हो जाए तो किसी न किसी को सड़क पर उतरना ही होगा और हमारी पार्टी यह लड़ाई लड़ेगी.
रुपेश हत्याकांड का जिक्र करते हुए पप्पू यादव ने कहा कि रुपेश सिंह की हत्या नेताओं और पदाधिकारियों की मिलीभगत से हुई है. सरकारी विभागों में लूट मची हुई है. शराब की 8,000 करोड़ की समानांतर अर्थव्यवस्था चल रही है. उत्तर प्रदेश, झारखण्ड, हरियाणा और नेपाल से शराब की तस्करी हो रही है. सरकार को राजस्व घाटा हो रहा है और माफिया पैसे बना रहे हैं.
जाप के राज्य कार्यकारणी की बैठक में पार्टी के संगठन विस्तार सहित भावी कार्यक्रमों पर चर्चा हुई. इस दौरान पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष राघवेंद्र सिंह कुशवाहा, राष्ट्रीय उपाध्यक्ष अजय बुल्गानिन, राष्ट्रीय प्रधान महासचिव रघुपति सिंह, राष्ट्रीय महासचिव शिवजी राय, रामचंद्र यादव, रामानंद राम, भाई दिनेश, प्रेमचंद सिंह, राजेश रंजन पप्पू, कमलेश तिवारी, राजू दानवीर, रानी चौबे, शबाना आज़मी, सत्येंद्र पासवान, आजाद चांद, विशाल कुमार, गौतम आनंद, अवधेश लालू, गोपाल प्रसाद यादव समेत पार्टी के अन्य नेता मौजूद थें. इस बैठक की अध्यक्षता प्रदेश अध्यक्ष राघवेन्द्र सिंह कुशवाहा ने की.

 

 

LEAVE A REPLY