‘विश्व ओजोन दिवस’ पर यूथ होस्टल में कार्यक्रम

400
0
SHARE
World Ozone Day

संवाददाता.पटना. सेव इंटरनेशनल,यूथ होस्टल्स एशोसिएशन ऑफ इंडिया,बिहार स्टेट ब्रांच एवं दी एक्सपेरिमेंट इन इंटरनेशनल लिविंग के संयुक्त तत्वावधान में ‘विश्व ओजोन दिवस’ पर पटना, यूथ होस्टल परिसर में कार्यक्रम आयोजित किए गए और फल-फूल वाले पौधे लगाये गये |
इस मौके पर सेव इंटरनेशनल के संरक्षक डॉ. टीआर गाँधी,आरसी मलहोत्रा,रिंकी कुमारी,डॉ.पवन अग्रवाल,यूथ होस्टल्स एशोसिएशन,बिहार के उपाध्यक्ष सुधीर मधुकर आदि ने अपने-अपने संबोधन में कहा कि जीवन के लिए ऑक्सीजन से ज्यादा जरूरी ओजोन है और इस दिवस को मनाने की यही वजह है कि ओजोन लेयर के बारे में लोगों को जागरूक किया जा सके | इस के साथ ही इसे बचाने के लिए समाधान निकाले जा सके |
मालूम हो की ओजोन अणुओं की एक लेयर ही ओजोन परत है, जो 10 से 50 किलोमीटर के बीच के वायुमंडल में पाई जाती है |  सूर्य की हानिकारक अल्ट्रावायलेट किरणों से ओजोन परत पृथ्वी को बचाती है. इस लेयर के बिना जीवन संकटमें पड़ सकता है | बता दें कि अगर यही अल्ट्रावायलेट किरणें सीधे धरती पर पहुंच जाए तो मनुष्य, पेड़-पौधों और जानवरों के लिए ये स्थिति काफी गंभीर हो सकती है. ऐसे में ओजोन परत का संरक्षण बेहद जरूरी है |
इस साल 2021 वर्ल्ड ओजोन डे की थीम है ‘मॉन्ट्रियल प्रोटोकॉल – हमें, हमारे भोजन और टीकों को ठंडा रखना’ | मॉन्ट्रियल प्रोटोकॉल बहुत कुछ करता है जैसे- जलवायु परिवर्तन की गति को कम करना व ठंडे क्षेत्र में ऊर्जा दक्षता को बढ़ाने में मदद करना | इसके साथ ही ये खाद्य सुरक्षा में भी योगदान देता है. इस साल की थीम को 197 देशों के द्वारा मंजूरी दी गई है |  इस मौके पर अनुष्का नाथ,कविता नाथ,नन्दकिशोर यादव , मुकेश महान, जितेन्द्र कुमार सिन्हा,जावेद आलम,अलोक कुमार, मुकेश कुमार नंदन , मो.युनुस आलम, प्रज्वल अग्रवाल,अमित कुमार, कुंदन कुमार, शाशिभुष्ण उजाला आदि ने भी अपने-अपने विचार रखे | कार्यक्रम का संचालन सेव इंटरनेशनल के मनीष कुमार ने किया |

 

LEAVE A REPLY