जून या जुलाई में चलेगा सघन दस्त नियंत्रण पखवाड़ा

104
0
SHARE
inclusive development

संवाददाता.पटना. शिशु मृत्यु दर में कमी लाने के लिए स्वास्थ्य विभाग स्वास्थ्य सेवाओं को निरंतर सुदृढ़ कर रहा है। इसे लेकर विभाग न सिर्फ सजग है। आने वाले जून या जुलाई माह में ‘सघन दस्त नियंत्रण पखवाड़ा’ चलाने का निर्णय किया है। इस दौरान स्वास्थ्य केन्द्रों पर दस्त नियंत्रण को लेकर जरूरी दवाओं की उपलब्धता एवं दस्त से पीड़ित बच्चों को गुणवत्तापूर्ण चिकित्सकीय सेवा प्रदान किया जायेगा।
इसकी जानकारी देते हुए स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय ने बताया कि पखवाड़ा के दौरान सभी पांच साल तक के बच्चों के घरों का आशा कार्यकर्ता दौरा कर दस्त से बचाव के लिए ओआरएस पैकेट वितरित करेंगी। साथ ही दस्त से ग्रसित बच्चों के उपचार हेतु ओरआरएस तथा जिंक टेबलेट की उपलब्ध्ता प्रत्येक स्वास्थ्य संस्थानों पर भी कराया जायेगा। राज्य के सभी 38 जिलों में ओआरएस के दो करोड़ दो लाख 66 हजार 920 पैकेट और 80 लाख 70 हजार 237 जिंक टैबलेट की आवश्यकता का आकलन शिशु स्वास्थ्य कोषांग द्वारा किया गया है।
श्री पांडेय ने कहा कि पखवाड़ा शुरू होने से पूर्व जिलों को आवश्यक दवाओं की उपलब्धता विभाग द्वारा सुनिश्चित की जाएगी। श्री पांडेय ने कहा कि पांच साल तक के बच्चों में डायरिया या दस्त शिशु मृत्यु दर का एक बहुत बड़ा कारण माना जाता है। गर्मी एवं बरसात के मौसम में बच्चों में दस्त की शिकायत बढ़ जाती है और अधिकांश बच्चे इसकी चपेट में आ जाते हैं। इसे लेकर विभाग ने समय से पूर्व तैयारी शुरू कर दी है।

 

 

LEAVE A REPLY