लिट्रा पब्लिक स्कूल के बच्चों ने जाना मां का महत्व

268
0
SHARE
Litra Public School

संवाददाता.पटना. लिट्रा पब्लिक स्कूल द्वारा अभिलेख भवन में मातृ दिवस कार्यक्रम का आयोजन किया गया था। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए प्रबंधन समिति के अध्यक्ष अमित प्रकाश ने कहा कि सभी जगह भगवान नहीं हो सकते। भगवान के रूप में उन्होंने मां की रचना की है। अमित प्रकाश ने मां को प्रकृति का अनमोल उपहार कहा।
इसके बाद मुख्य अतिथि तविसी पांडे (आईएफएस) और प्रधानाचार्य सादिया रब ने भी मां को प्रकृति का अनमोल तोहफा बताया और कहा कि जिंदगी में मां का स्थान सर्वोपरि है। प्रधानाचार्या ने लिट्रा पब्लिक स्कूल के बारे में भी विस्तार से बताते हुए कहा कि लिट्रा पब्लिक स्कूल में फॉरेन लैंग्वेज, तैराकी, अध्ययन पोर्टल पर ऑनलाइन परीक्षा, साप्ताहिक जांच परीक्षा, रमन साइंस क्लब, क्लास नोट्स, टीचिंग मैटेरियल्स, वीडियो रिकॉर्डिंग को अपलोड किया जाएगा, जो विद्यार्थियों के लिए सुविधाजनक होगी।
उन्होंने बताया कि 2007 में अमृता दत्ता द्वारा इस स्कूल की स्थापना की गई थी। फिलवक्त ममता मेहरोत्रा के निर्देशन में यह विद्यालय चलाया जा रहा है। ममता मेहरोत्रा ने सांस्कृतिक, साहित्यिक और सामाजिक गतिविधियों से इस स्कूल को जोड़ कर एक नया आयाम देने की कोशिश की है। मौके पर ममता मेहरोत्रा ने कहा उनका मकसद सभी विद्यार्थियों में आत्मविश्वास पैदा करना और उन्हें स्वावलंबी बनाना है। विद्यार्थियों को सामाजिकता और संवेदनशीलता का पाठ सिखाना उनका मुख्य उद्देश्य है। श्रीमती मेहरोत्रा ने कहा कि हम बच्चों को साफ सुथरा और सुरक्षित वातावरण तो देते ही हैं साथ ही आधुनिक शिक्षा के साथ संस्कार भी देने की कोशिश करते हैं।
इस अवसर पर स्कूल के नन्हें मुन्ने बच्चों ने रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत कर वहां उपस्थित अभिभावकों का मन मोह लिया। खुद कई अभिभावकों को भी भरोसा नहीं हो रहा था कि उनके बच्चों में इस कदर और इस स्तर की मंचीय प्रतिभा भी है।

LEAVE A REPLY