दैनिक यात्री संघ विभिन्न मुद्दों के खिलाफ विशाल प्रदर्शन

198
0
SHARE
Dainik Yatri Sangh

संवाददाता.पटना.बिहार दैनिक यात्री संघ ने मंडल कार्यालय, दानापुर के समक्ष अध्यक्ष बीरेंद्र प्रसाद शर्मा के नेतृत्व में सभी एक्सप्रेस-सवारी ट्रेनों के परिचालन-ठहराव एवं निजीकरण के खिलाफ विशाल प्रदर्शन किया गया। जिसमें बड़ी संख्या में बिहार दैनिक यात्री संघ के पदाधिकारी एवं सदस्य शामिल हुए।
इनकी प्रमुख मांग थी की रेलवे का निजीकरण बंद किया जाये, कोरोना काल से पूर्व चल रही सभी एक्सप्रेस और रेगुलर सवारी गाड़ियों (मेमू-डेमू) का अविलंब परिचालन शुरू किया जाय, जितनें भी स्टेशनों से कोरोना के बाद ट्रेनों के ठहराव हटाये गए हैं उसे अविलंब पुनर्बहाल किया जाये, वरिष्ठ नागरिकों को मिल रही रेल टिकट में रियायत (छूट) को पूर्व की भांति पुनः बहाल किया जाये, प्लेटफार्म टिकट पूर्व की भांति 10 रखा जाये एवं स्पेशल सवारी ट्रेन के नाम पर तिगुना रेल भाड़ा बंद करने कि मांग की गयी थी
इसके साथ साथ  रद्द की गयी एक्सप्रेस ट्रेनों में 13133/03119-13134/13120 सियालदह-वाराणसी आनंद विहार एक्सप्रेस, 13131/13131 पटना-कोलकाता एक्सप्रेस एवं 13007-13008 उद्यान आभा तूफ़ान एक्सप्रेस का पुनः परिचालन की मांग की गयी है। जिससे दिल्ली-कोलकाता एवं आस-पास के नगरों से आने-जाने वाले यात्रियों को राहत मिल सके। वहीँ दानापुर स्टेशन में बनारस-पटना जनशताब्दी 05125-05126 ट्रेन का ठहराव की मांग की गयी है, क्योंकि इस ट्रेन का ठहराव नहीं होने से भक्तों, श्रद्धालु एवं पुजारियों, व्यापारियों, छात्र-छात्राओं एवं मरीज़ों को काफी परेशानी हो रही है एवं  मननपुर स्टेशन में 02351-02352 राजेंद्र नगर-हावड़ा एक्सप्रेस व सदीसोपुर स्टेशन में पटना-कुर्ला 03201-03202 की ठहराव की मांग की गयी है।
प्रदर्शन में शामिल होने वालों में मंजुल कुमार दास, महासचिव नंदकिशोर प्रसाद, सचिव शोएब कुरैशी, संयुक्त सचिव के बी राय, सत्य प्रकाश उर्फ संजय महाराज, जमुना पंडित, अवध बिहारी पाण्डेय, राज कुमार झा, उमेश प्रसाद, सज्जाद आलम, जय प्रकाश पासवान सहित सैंकड़ों कार्यकर्ता एवं पदाधिकारी उपस्थित रहे और अंत में संघ के मुख्य संरक्षक मंजुल कुमार दास, अध्यक्ष बीरेंद्र प्रसाद शर्मा, महासचिव नंदकिशोर प्रसाद एवं सचिव शोएब कुरैशी के नेतृत्व में डी.आर.एम को ज्ञापन सौंपा गया। प्रदर्शन की सफलता पर संघ सभी पदाधिकारियों ने सभी कार्यकर्ता एवं आम लोगों का आभार प्रकट किया. अंत में धन्यवाद ज्ञापन बीरेंद्र प्रसाद शर्मा ने किया।

 

 

LEAVE A REPLY