आपदा में घर बैठे राजद एवं कांग्रेस नेता चमका रहे हैं राजनीति- परशुराम चतुर्वेदी

283
0
SHARE

संवाददाता.बक्सर.प्रतिपक्ष के नेता तेजस्वी यादव द्वारा केंद्रीय स्वास्थ्य राज्य मंत्री अश्विनी चौबे पर एक ही एंबुलेंस को चार बार उद्घाटन के आरोप पर बक्सर के पूर्व भाजपा प्रत्याशी परशुराम चतुर्वेदी व प्रदेश कार्यसमिति सदस्य भाजपा राजवंश सिंह ने कहा कि प्रतिपक्ष के नेता को बक्सर की स्थिति की जानकारी नहीं है। घर बैठे केवल ट्वीट करते हैं। जनता से कोई लेना देना नहीं है। आपदा में ट्वीट पर राजनीति चमका रहे हैं। परशुराम चतुर्वेदी और राजवंश सिंह ने आज बक्सर में पत्रकारों से बातचीत में ये बातें कही।

उन्होंने कहा कि मर्यादित पद पर बैठे तेजस्वी यादव को ट्वीट करने से पहले खबरों की जांच पड़ताल भी कर लेनी चाहिए थी। कोरोना संक्रमण काल में जनता के लिए शुरू किए सेवा को एंबुलेंस के उद्घाटन का बताकर बिहार की जनता को गुमराह करने का काम किया है। वे राघोपुर की जनता को खुद कोरोना जैसे समय में भंवर में छोड़कर घर में बैठकर आराम फरमा रहे हैं। गलत ट्वीट कर बिहार की जनता को दिग्भ्रमित करने का काम कर रहे हैं। क्या तेजस्वी यादव व कांग्रेस यह नहीं चाहते हैं कि कोरोना संक्रमण काल में गांव की जनता को एम्स पटना के विशेषज्ञ डॉक्टर उनको चिकित्सीय परामर्श दें ? क्या वे नहीं चाहते हैं गांव में लोगों को प्राथमिक चिकित्सा मिले ? राजद एवं कांग्रेस ने हमेशा जनता को ठगने का काम किया है। आज भी इस संक्रमण काल में जनता को बरगलाने उकसाने का काम इनके द्वारा किया जा रहा है।विकास कार्य में बाधा पैदा करने का निरंतर प्रयास करके प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी एवं बिहार के मुख्यमंत्री  नीतीश कुमार जी के द्वारा चलाये जा रहे विकास कार्य को रोकने का कुत्सित षड्यंत्र कर रहे हैं।

बक्सर से भाजपा के पूर्व प्रत्याशी परशुराम चतुर्वेदी एवं भाजपा प्रदेश कार्यकारिणी के सदस्य राजवंश सिंह ने बक्सर में संवाददाताओं से बातचीत में कहा कि कांग्रेस विधायक संजय तिवारी उर्फ मुन्ना तिवारी द्वारा बक्सर के विकास कार्य में बाधा पैदा करने का निरंतर प्रयास करते हैं।लगातार पिछले कुछ दिनों से सदर विधायक जनहित में राष्ट्रीय स्तर पर प्रारम्भ किये गए विभिन्न योजनाओं और कार्यों का विरोध करके अपनी राजनीति चमकाने में लगे हुए है और जनता को बरगलाने का काम कर रहे हैं।

जहां एक तरफ भाजपा का एक एक कार्यकर्ता अपना तन मन धन लगाकर कोरोना पीड़ितों के सेवा कार्य, राशन, चिकित्सीय व्यवस्था में लगे थे वहीं सदर विधायक महोदय अपने व्यक्तिगत सेवन हेतु अपनी गाड़ी से शराब तस्करी करवा रहे थे जिसमें उनपर प्रशासन द्वारा केस दर्ज किया गया और कई लोगों की गिरफ्तारी भी हुई है और उन्हें बेल लेना पड़ा है। पिछले एवं अभी दूसरे वेव में कोरोना काल में वे अपने घर में आराम फरमा रहे थे। कोरोना के इस दूसरी लहर में ग्रामीण स्तर पर लोगों को सेवा उपलब्ध कराने के लिए मेडिकल मोबाइल यूनिट सेवा का शुभारंभ किया गया है न कि एंबुलेंस का उद्घाटन किया गया है। इस घोर संक्रमण काल में कांग्रेस एवं राजद के नेता राजनीति ना चमकाएं। जनता राजद एवं कांग्रेस के नेताओं के कारनामे को देख रही है।

 

 

LEAVE A REPLY